Monday, October 18th, 2021

यहां जानें, कपूर जलाने के फायदे

अक्सर देखा गया है कि पूजा या आरती के समय कपूर का इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि कपूर जलाने से हमारे आस-पास की नकरात्मक शक्तियां नष्ट हो जाती हैं। आसा माना गया है कि इसका प्रयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है। वास्तु शास्त्र में भी इसके इस्तेमाल के बारे में बताया है कि इसका प्रयोग घर से नकरात्मक ऊर्जा के नाश के लिए किया जाता है, जिससे कि परिवार में सुख-शांति बनी रहे।  

कहते हैं कि घर में अगर नकारात्मक ऊर्जा हो तो इन वास्तु दोषों से निपटने और घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने लिए कपूर जलाया जाता है। माना जाता है कि ऐसा करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है। लेकिन क्या आपको पता है कि कपूर का प्रयोग किस प्रकार करना चाहिए? अगर नहीं तो चलिए आज हम आपको बताते हैं इसके बारे में-

वास्तु शास्त्र के अनुसार नकरात्मक शक्ति को दूर करने के लिए घर में सुबह-शाम कपूर जलाना चाहिए। कहते हैं सूर्यास्त के बाद घर के हर एक कमरे में लाइट जला देनी चाहिए। इसके अलावा शाम के समय किसी छोटी सी चांदी की कटोरी में एक लौंग और कुछ कपूर लेकर जलाएं। ऐसा करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होती है।

अगर घर के लोग किसी न किसी बीमारी से परेशान रहते हैं तो कूर के तेल की कुछ बूंदें पानी में मिलाकर स्नान करना चाहिए। कहते हैं ऐसा करने पर बीमारियां जल्दी दूर होती हैं। इसके साथ ही कपूर को देसी घी के साथ मिलाकर जलाने से भी नकरात्मक शक्तियां दूर होती हैं व वास्तु दोष भी कम होता है। 

Source : Agency

आपकी राय

14 + 14 =

पाठको की राय