Wednesday, January 19th, 2022

विरोध के बीच हुई गुरुग्राम में जुमे की नमाज, हिन्दू संगठनों ने नमाजियों के सामने लगाए जय श्रीराम के नारे

गुरुग्राम
दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम जिले में खुले में नमाज पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को सेक्टर-37 में नमाज पढ़ने पहुंचे लोगों को कथित तौर पर विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि, इस दौरान पुलिस ने नमाज का विरोध कर रहे लोगों को जबरन वहां से हटा दिया। इस दौरान कुछ लोगों को हिरासत में भी लिए जाने की सूचना है। हिंदू संगठनों के लोगों ने खुले में नमाज नहीं पढ़ने को लेकर जय श्रीराम के नारे लगाए। यहां तक नमाज स्थल पर पहुंचकर उन्हें नमाज पढ़ने से भी रोक दिया। इसकी जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने विरोध करने वालों को वहां से हटाया, तब जाकर नमाज पढ़ी जा सकी। वहीं, मुफ्ती मोहम्मद सलीम अंसारी ने कहा कि सेक्टर-37 में दो जगहों पर पढ़ी जाने वाली नमाज को रोका गया था, लेकिन उनके समाज के कुछ लोग नमाज पढ़ने पर जोर रहे हैं। शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए गुरुवार को वह पुलिस कमिश्नर से भी मिले थे। उन्होंने भी भरोसा दिलाया था कि चिहिंत स्थानों पर नमाज पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी और वहां विरोध भी नहीं होगा। इसके लिए पुलिस सहयोग करेगी।

गौरतलब है कि खुले में नमाज के विरोध का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले अक्टूबर महीने में भी सेक्टर-47 में खुले में नमाज पढ़ने के विरोध में कुछ स्थानीय लोगों ने नमाज स्थल के पास भजन-कीर्तन के जरिए विरोध जताया था। मामले की जानकारी मिलते ही भारी पुलिस बल के साथ वरिष्ठ अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंच गए। उन्होंने विरोध करने वालों को समझाने का प्रयास किया। स्थानीय लोगों का कहना था कि जब तक खुले में नमाज पढ़ने पर रोक नहीं लग जाती तब तक उनका विरोध जारी रहेगा। सेक्टर-47 के आरडब्ल्यूए प्रधान सुनील यादव ने कहा था कि खुले में नमाज पढ़ने से माहौल खराब हो रहा है।  

 

Source : Agency

आपकी राय

7 + 9 =

पाठको की राय