Wednesday, January 19th, 2022

बिहार में होगी 8300 पीटी शिक्षकों की भर्ती, पंचायत चुनाव के बाद होगी पात्रता परीक्षा

पटना

बिहार में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा में कहा कि 8300 शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों की बहाली की जाएगी। पंचायत चुनाव के बाद पात्रता परीक्षा आयोजित की जाएगी। स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड में एक लाख 35 हजार से अधिक छात्रों को 2000 करोड़ का कर्ज उपलब्ध कराया गया है। सात निश्चय की यह सबसे श्रेष्ठ योजना है। सरकार उर्दु के साथ ही संस्कृत विषय को बढ़ावा देने के लिए कटिबद्ध है।

बिहार में दूसरे राज्यों से अधिक वेतन : विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए मंत्री ने कहा कि बिहार में दूसरे राज्यों की तुलना में अधिक वेतन दिया जा रहा है। असम में 31 हजार, झारखंड में 34 हजार तो बिहार में 36 हजार दिया जा रहा है। उच्च माध्यमिक में असम में 33 हजार, झारखंड में 35 हजार तो बिहार में 38 हजार दिया जा रहा है। साल 2005 में साढ़े 12 फीसदी बच्चे स्कूल से बाहर थे जो अब घटकर 0.5 फीसदी हो गया है।

सभी नियुक्तियां पारदर्शी तरीके से हो रही : मंत्री ने कहा कि जिस बीपीएससी से शिक्षकों की बहाली की बात विपक्ष करता है, उसी आयोग के तीन अध्यक्ष जेल तो एक निलंबित हुए थे। इससे समझा जा सकता है कि उस समय आयोग से कैसी नियुक्तियां होती थी। अब सभी नियुक्तियां पारदर्शी तरीके से हो रही है। कोई चाहकर भी हेराफेरी नहीं कर सकता है। उस समय 37 हजार प्राथमिक विद्यालय थे जो बढ़कर 40 हजार से अधिक हो गए। मध्य विद्यालय 13500 से बढ़कर 29 हजार हो गए। पांच हजार से अधिक उच्चतर माध्यमिक स्कूल खोले गए।

Source : Agency

आपकी राय

6 + 11 =

पाठको की राय