Saturday, December 4th, 2021

युवराज सिंह जातिगत टिप्पणी के लिए गिरफ़्तार, ज़मानत पर छूटे

  हिसार

अनुसूचित जाति को लेकर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) को हरियाणा पुलिस ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया. हालांकि, उन्हें कुछ देर बाद अंतरिम जमानत पर रिहा भी कर दिया गया. युवराज सिंह ने पिछले साल लॉकडाउन के समय इंस्टाग्राम पर क्रिकेटर रोहित शर्मा के साथ बातचीत की थी. इस दौरान उन्होंने यजुवेंद्र चहल के लिए एक आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल किया था. इसके बाद, युवी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया गया.

युवराज सिंह की गिरफ्तारी के मामले को पुलिस ने शुरुआत में गुप्त रखा. उन्हें शनिवार को ही हरियाणा की हांसी पुलिस ने गिरफ्तार कर जांच में शामिल किया था. इसके बाद उनकी गिरफ्तारी की जानकारी रविवार देर रात सामने आई. पुलिस ने युवराज को हिसार स्थित पुलिस विभाग के गजेटेड ऑफिसर मैस में बैठाकर पूछताछ की और मामले से जुड़े कुछ सवाल-जवाब किए. बाद में हाई कोर्ट के निर्देशानुसार युवराज सिंह को औपचारिक जमानत पर छोड़ दिया गया.

सोशल मीडिया पर वीडियो के वायरल होने के बाद युवराज सिंह ने बयान पर खेद भी व्यक्त किया था. उन्होंने ट्विटर पर कहा था कि मैं यह बात साफ कर देना चाहता हूं कि किसी भी तरह के भेदभाव में विश्वास नहीं रखता हूं. चाहे वह जाति, रंग, लिंग या मजहब का आधार पर हो. मैंने अपनी जिंदगी लोगों की भलाई के लिए लगाई है और आगे भी ऐसा ही करता रहूंगा. उन्होंने आगे कहा था कि अपने दोस्तों के साथ बातचीत के दौरान मैंने जो कहा उसे गलत तरीके से समझा गया. हालांकि, जिम्मेदार भारतीय नागरिक होने के नाते मैं यह कहता हूं कि अगर मैंने किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है तो उसके लिए खेद व्यक्त करता हूं.

Source : Agency

आपकी राय

3 + 6 =

पाठको की राय