Saturday, December 4th, 2021

शरद पूर्णिमा के दिन भूलकर भी न करें ये काम

 

मां लक्ष्‍मी की कृपा पाने के लिए साल में कुछ दिन बहुत खास होते हैं. इसमें शरद पूर्णिमा भी शामिल है. शरद पूर्णिमा अश्विन महीने की पूर्णिमा को कहते हैं. शास्‍त्रों के मुताबिक समुद्र मंथन के दौरान देवी लक्ष्‍मी इसी दिन प्रकट हुईं थीं. कुछ जगहों पर शरद पूर्णिमा को कोजगिरी पूर्णिमा भी कहते हैं. यह दिन मां लक्ष्‍मी की पूजा करने के लिए और उनको प्रसन्‍न करने के लिए बहुत खास होता है. साथ ही इस दिन कुछ कामों को करने की मनाही है. इस साल 19 अक्‍टूबर 2021 को शरद पूर्णिमा है.

शरद पूर्णिमा के दिन न करें यह काम

- शरद पूर्णिमा के दिन गलती से भी नॉनवेज और शराब का सेवन न करें, वरना आर्थिक संकट में फंस सकते हैं.

- शरद पूर्णिमा के दिन धन का लेन-देन न करें. इससे धन-हानि होती है.

- इस दिन ब्रम्‍हचर्य का पालन करना चाहिए, वरना दांपत्‍य जीवन में मुश्किलें आती हैं.

- शरद पूर्णिमा के दिन सुहागिन महिलाओं को भोजन करवाना चाहिए. साथ ही कोई भेंट देनी चाहिए. इससे घर में सुख-समृद्धि आती है.

- शरद पूर्णिमा को सूर्यास्‍त से पहले ही दान-दक्षिणा करें. सूर्यास्‍त के बाद दान देने गरीबी आती है.

- इस दिन संभव हो तो तवा न चढ़ाएं यानी कि तली हुई चीजें ही खाएं.

- शरद पूर्णिमा को महिलाएं सूर्यास्‍त के बाद बालों में कंघी न करें. ऐसा करना अशुभ होता है.

Source : Agency

आपकी राय

8 + 14 =

पाठको की राय