Monday, October 18th, 2021

रोहिणी कोर्ट में गैंगवॉर,जितेंद्र की गोली मारकर हत्या, दो हमलावर भी किए गए ढेर

  नई दिल्ली           
 देश की राजधानी दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में गैंगवॉर हुआ है. शुक्रवार दोपहर को यहां मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. जिसके बाद कोर्ट परिसर में शूटआउट हुआ और हमलावरों को भी मार गिराया गया है.

इस शूटआउट में 3 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. इनमें से एक जितेंद्र है, जबकि दो हमलावर हैं जो कि जितेंद्र पर ही हमला करने आए थे. स्पेशल सेल के जवानों ने दोनों हमलावरों को ढेर किया है. वहीं, इस मामले की जांच ज्वाइंट कमिश्नर नॉर्थ करेंगे और जांच की रिपोर्ट दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना को सौंपी जाएगी. इसके अलावा घटनास्थल पर फॉरेंसिक टीम ने भी पहुंचकर जांच शुरू कर दी है.

जितेंद्र उर्फ गोगी को तिहाड़ जेल में बंद था, जिसे शुक्रवार को पेशी के लिए लाया गया था. इसी दौरान रोहिणी कोर्ट के परिसर में बदमाशों के बीच शूटआउट हो गया. रोहिणी कोर्ट परिसर में हुई फायरिंग के बाद इलाके को सील कर दिया गया है. इस दौरान मची भगदड़ में एक महिला वकील भी घायल हुई है.


वकील बनकर आए थे हमलावर

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, दो हमलावर वकील बनकर कोर्ट परिसर में पहुंचे थे जिन्होंने गैंगस्टर जितेंद्र पर गोली चलाई. स्पेशल सेल की टीम जितेंद्र को कोर्ट रूम में लेकर गई थी, जहां पर ये घटना हुई थी.

दिल्ली के टिल्लू गैंग ने जितेंद्र की हत्या की है. जो दो हमलावर ढेर हुए हैं, उनमें एक राहुल है जिसपर 50 हजार का इनाम है. जबकि एक दूसरा बदमाश है.

 

दो साल पहले पकड़ा गया था जितेंद्र

जितेंद्र को दो साल पहले ही स्पेशल सेल ने गुरुग्राम से गिरफ्तार किया था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के मुताबिक, जितेंद्र गोगी ने अपराध के जरिए अकूत संपत्ति कमाई थी. जितेंद्र गोगी के नेटवर्क में 50 से ज्यादा लोग हैं.

गौरतलब है कि जितेंद्र गोगी को साल 2020 में गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया था. गोगी के साथ कुलदीप फज्जा को भी पकड़ा गया था. कुलदीप फज्जा बाद में 25 मार्च को कस्टडी से फरार हो गया था. फज्जा जीटीबी अस्पताल से फरार हुआ था जिसके बाद उसका एनकाउंटर हुआ.

Source : Agency

आपकी राय

13 + 6 =

पाठको की राय