Tuesday, March 2nd, 2021

तारकिशोर प्रसाद ने पेश किया 2 लाख करोड़ से ज्यादा का बजट 

पटना
बिहार के डिप्टी सीएम व वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रुपये का अनुमानित बजट पेश किया। उन्होंने इस वित्तीय वर्ष में बिहार सरकार की कुल आय 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ रहने की बात कही है। वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने विधानसभा में राजकोषीय घाटा 3 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। बता दें कि बिहार के इस बार का बजट पिछले बजट के मुकाबले 3.03 फीसदी ही बढ़ा है। बिहार का बजट पेश करने के दौरान डिप्टी सीएम सह वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने ऐलान किया कि पशुओं के लिए हर 8-10 पंचायत पर अस्पताल बनाया जाएगा। इनको टेलीमेडिसिन की भी सुविधा दी जाएगी। 

देशी गोवंश के लिए गोवंश विकास संस्थान की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए 500 करोड़ रुपये का बजट दिया गया है। दिल में छेद वाले मरीजों का मुफ्त इलाज कराएंगे। इस योजना के लिए 300 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सिंचाई की पर्याप्त व्यवस्था की गई। हर खेत में पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। हर गांव में सोलर साइट की व्यवस्था की जाएगी। सभी गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट के लिए 150 करोड़ के बजट का प्रावधान है। इसके अलावा कृषि के लिए 550 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 200 करोड़ का प्रावधान है। वहीं वाटर ड्रेनेज के लिए 150 करोड़ का प्रावधान है। 20 लाख से ज्यादा रोजगार के नए मौके प्रदान किये जाएंगे। 5 जिलों में फार्मेसी कॉलेज खोले जाएंगे।

 राज्य में एक और नए इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना की जाएगी। हर जिले में मेगा स्किल सेंटर बना युवाओं के रोजगार के लिए मौके बढ़ाए जाएंगे। बिहार में मछलीपालन को इतना बढ़ाया जाएगा कि यहां कि मछली दूसरे राज्यों में जाएगी। आज डिप्टी सीएम सह वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने अपना पहला और नीतीश सरकार का सोलहवां बजट पेश किया। उन्होंने करीब 55 मिनट तक भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत शेर से की। इसके बाद बीच में अटल जी की कविता की दो पंक्तियां भी पढ़ी और अपने भाषण का अंत संभावनाओं भरी एक और कविता से किया।

Source : Agency

आपकी राय

4 + 4 =

पाठको की राय