Tuesday, October 20th, 2020

ब्रिटेन में कोविड-19 लॉकडाउन के विरोध में हजारों लोगों ने किया प्रदर्शन

लंदन
कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के उद्देश्य से लगाई गई पाबंदियों के विरोध में शनिवार को हजारों लोग 'हम राजी नहीं' रैली में शामिल होने के लिए ट्रैफलगर स्क्वेयर पर एकत्रित हुए। ये लोग 'छह का नियम' का भी विरोध कर रहे थे जिसके तहत पांच से अधिक लोगों के एक साथ एकत्रित होने पर पाबंदी है। मेट्रोपोलिटन पुलिस ने पहले ही वक्तव्य जारी करके कह दिया था कि इस तरह लोगों का जुटना वायरस फैलने से रोकने के लिए बनाए गए नियमों का उल्लंघन होगा। शनिवार को पुलिस की कार्रवाई की अगुवाई कर रहे कमांडर एड एडलेकन ने कहा, ''अधिकारी लोगों को नियमों के बारे में समझाएंगे, उनसे बात करेंगे और नियमों का पालन करने के लिए उन्हें प्रेरित करेंगे। हालांकि यदि लोग पालन नहीं करते हैं और स्वयं को तथा दूसरों को खतरे में डालना जारी रखते हैं तो अधिकारियों को कार्रवाई करनी होगी।''

पिछले सप्ताह लॉकडाउन के विरोध में निकाला गया इसी तरह का प्रदर्शन हिंसक हो गया था जिसके बाद 32 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। लंदन के मेयर सादिक खान ने ब्रिटेन की राजधानी में सख्त पाबंदियां लगाने की मांग की थी, उसी के विरोध में शनिवार की यह रैली हुई। ब्रिटेन के कई हिस्सों में पहले से सख्त लॉकडाउन है। इधर, अमेरिका की दवा कंपनी नोवावैक्स ने कोविड-19 के अपने संभावित टीके का ब्रिटेन में बीमारी के आखिरी चरण के स्तर पर किये जाने वाले अहम परीक्षण को शुरू किया है। कंपनी ने इसकी जानकारी दी है। किसी भी टीके का आखिरी स्तर पर परीक्षण उसके विपणन से पहले सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये बड़े स्तर पर किया जाता है। कंपनी का कहना है कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस का जो मौजूदा उच्चस्तर है उसमें परीक्षण के परिणाम त्वरित रूप से मिल सकते हैं। कंपनी ने कहा कि इस परीक्षण में वह 18 साल से 84 साल की उम्र के 10 हजार लोगों पर टीके के प्रभाव का अध्ययन करेगी। कंपनी ने कहा कि इनमें से कम से कम 25 प्रतिशत लोग 65 साल से अधिक उम्र के होंगे।

कंपनी ने बताया कि यह परीक्षण ब्रिटेन के वैक्सीन टास्कफोर्स की भागीदारी में किया जा रहा है। ब्रिटेन की सरकार ने कोविड-19 के टीके के विकास के काम को तेजी प्रदान करने के लिये इस साल अप्रैल में वैक्सीन टास्कफोर्स का गठन किया था। नोवावैक्स के शोध एवं विकास प्रमुख डॉक्टर ग्रेगरी एम ग्लेन ने कहा, ''ब्रिटेन में सार्स सीओवी2 के संक्रमण के उच्च स्तर तथा इसके जारी रहने को देखते हुए हम इस बारे में आशावान हैं कि यह महत्वपूर्ण तीसरे चरण का परीक्षण शीघ्र होगा और टीके के प्रभाव को लेकर निकट भविष्य का दृष्टिकोण प्रदान करेगा। यह घोषणा ऐसे समय की गयी है, जब ब्रिटेन में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि जारी है। सरकार ने गुरुवार को संक्रमण के 6,634 नये मामले मिलने की सूचना दी। यह महामारी की शुरुआत के बाद किसी भी एकदिन की सर्वाधिक संख्या है। ब्रिटेन इस महामारी से यूरोप में सबसे अधिक प्रभावित है और अब तक इसके कारण देश में करीब 42 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। उल्लेखनीय है कि कई दवा कंपनियां सरकारों के सहयोग से टीके के विकास पर तेजी से काम कर रही हैं। ब्रिटेन पहले ही नोवावैक्स से टीके के छह करोड़ खुराक खरीदने का समझौता कर चुका है। ब्रिटेन की सरकार ने शुक्रवार को कहा कि नोवावैक्स के टीके के इस दौर के परीक्षण के लिये लोगों का चयन उन ढाई लाख लोगों के बीच से किया जायेगा, जिन्होंने नेशनल हेल्थ सर्विस की वैक्सीन रजिस्ट्री के जरिये खुद को टीके के परीक्षण के लिये उपलब्ध कराया है।

Source : Agency

आपकी राय

14 + 9 =

पाठको की राय