Monday, September 28th, 2020

कोरोना काल में थॉमस और उबेर कप कराने को लेकर भड़कीं साइना नेहवाल, अब तक 7 देश वापस ले चुके हैं नाम

नई दिल्ली 
भारतीय बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल ने अगले महीने होने वाले थॉमस और उबेर कप के समय को लेकर रविवार को चिंता व्यक्त की और पूछा कि क्या कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों के बीच इसका आयोजन सुरक्षित होगा? सात देशों के दुनिया भर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण टूर्नामेंट से हटने के बाद साइना ने चिंता व्यक्त की है। मार्च में इस महामारी के कारण बंद बैडमिंटन गतिविधियों के बाद थॉमस और उबेर कप से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बैडमिंटन की वापसी होगी। इनका आयोजन डेनमार्क में तीन से 11 अक्टूबर तक किया जाएगा। साइना ने ट्वीट किया, ''सात देशों ने महामारी के कारण टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया है... क्या इस दौरान इस टूर्नामेंट का आयोजन करना सुरक्षित होगा?" इस टूर्नामेंट से कोरिया, थाईलैंड, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, ताईवान, सिंगापुर और हांगकांग हट चुके हैं। भारत की तैयारियों पर भी इस महामारी का असर पड़ा है। हैदराबाद में प्रस्तावित अभ्यास शिविर रद्द करना पड़ा क्योंकि खिलाड़ियों ने भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा निर्धारित पृथकवास की शर्तों को स्वीकार करने से इनकार कर दिया।

इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती की अगुआई मौजूदा विश्व चैम्पियन पीवी सिंधू करेंगी। उन्होंने पहले व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए इससे हटने का फैसला किया था लेकिन महासंघ के मनाने पर इसे बदल दिया। हालांकि विश्व कांस्य पदक विजेता बी साई प्रणीत ने घुटने की चोट के कारण इस टूर्नामेंट में नहीं खेलने का निर्णय लिया। बैडमिंटन विश्व महासंघ को महामारी के कारण अपने अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर में बार बार बदलाव करना पड़ रहा है। उसने कहा है कि टूर्नामेंट के प्रतिभागियों के पास अगर नेगेटिव कोविड-19 रिपोर्ट है तो उन्हें डेनमार्क में पहुंचने के बाद पृथकवास में नहीं रहना होगा।
 

Source : Agency

आपकी राय

14 + 6 =

पाठको की राय