Monday, September 28th, 2020

डार्क सर्कल की समस्या से बचने के लिए ले भरपूर आहार


हम सभी जानते हैं कि डार्क सर्कल से हमारे चेहरे की खूबसूरती खराब हो जाती है। डार्क सर्कल एक आम समस्या है जो कई कारणों से होती है। इससे छुटकारा पाने के लिए सैकड़ों घरेलू उपाय मौजूद हैं। इसके साथ ही मेकअप के दौरान कंसीलर और कलर कलेक्टर का यूज करके भी आंखों के नीचे के काले घेरों को छिपाया जा सकता है।

लेकिन हर वक्त इन्हें छिपाने से बेहतर यह है कि हम डार्क सर्कल होने के कारणों से दूर रहें। दरअसल, डार्क सर्कल आपकी लाइफस्टाइल से जुड़े होते हैं। इसमें बदलाव करके इस समस्या से बचा जा सकता है। आइए जानते हैं किन कारणों से हो सकते हैं डार्क सर्कल।

धूम्रपान और एल्कोहल
अधिक स्मोकिंग और ड्रिंकिंग के कारण डार्क सर्कल हो सकता है। ये दोनों बुरी आदतें हमारे शरीर में पानी की मात्रा को घटाती हैं। इससे डिहाइड्रेशन की समस्या होती है और आंखों के नीचे काले घेरे आ जाते हैं।

​थकान और नींद की कमी
नींद की कमी, इंसोम्निया और थकान के कारण आंखों के नीचे काले घेरे आ जाते हैं। अगर आप स्क्रीन पर लगातार देखती हैं, इससे आंखें थक सकती हैं। अपनी आंखों को आराम दें और पर्याप्त नींद लेने की कोशिश करें।

​बढ़ती उम्र
बढ़ती उम्र के साथ सिर्फ झुर्रियां और फाइन लाइन्स ही परेशान नहीं करती, बल्कि आंखों के नीचे काले घेरे भी आ जाते हैं। दरअसल, हमारी आंखों के नीचे की त्वचा बहुत पतली होती है जिसके कारण वह जल्दी ही बाहर निकलने लगती है। इसके अलावा रक्त कोशिकाएं भी कमजोर हो जाती हैं जिसके कारण डार्क सर्कल आने लगते हैं।

​न्यूट्रिशन की कमी
पोषक तत्व हमें यंग रखने में काफी मदद करते हैं। शरीर में न्यूट्रिशन की कमी होने से आंखों के नीचे काले घेरे पड़ सकते हैं। डार्क सर्कल से बचने के लिए विटामिन ए, सी, के और ई के साथ ही अन्य पोषक तत्वों से भरपूर पर्याप्त आहार लेना चाहिए।

​एलर्जी
कुछ महिलाएं अपनी आंखों के आसपास की एरिया को हमेशा ड्राई करती रहती हैं। इससे स्किन रूखी हो जाती है और झुर्रियों के साथ ही काले घेरे पड़ जाते हैं। यदि आपको इस तरह की एलर्जी है, तो स्किन स्पेशलिस्ट से मिलें। इससे आप डार्क सर्कल की समस्या से काफी हद तक बच सकती हैं।

​खून की कमी
शरीर में आयरन की कमी होने पर एनीमिया होना स्वाभाविक है। जब हमारे शरीर के ऊतकों में ऑक्सीजन बहुत कम हो जाती है तो खून की मात्रा घट जाती है। इससे बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में हरी पत्तेदार सब्जियां, सलाद, फल और डेयरी प्रोडक्ट को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

Source : Agency

आपकी राय

15 + 2 =

पाठको की राय