Tuesday, November 24th, 2020

बच्‍चे को टाइम ऐसे सुलाएं

बच्चों को रात में समय पर सुलाना अपने आप में एक मुश्किल काम है। बच्‍चों का एनर्जी लेवल बड़ों के मुकाबले कहीं ज्‍यादा होता है, इसलिए दिन में खेलने के बाद भी वे नहीं थकते और देर रात तक जगे रहते हैं। इसके अलावा कुछ बच्चे दिन में सो जाते हैं जिसके कारण उन्‍हें रात में समय पर नींद नहीं आती है।

कई घरों में कामकाजी महिलाएं देर से घर लौटती हैं और बच्चा उनके आने का इंतजार कर रहा होता है। ऐसे में सोने और जगने की रूटीन खराब हो जाती है। बच्चे को रात में जल्दी नींद नहीं आती है और फिर वह सुबह देर तक सोता रहता है। अगर आपके बच्चे के साथ भी यही समस्या है तो आइये जानते हैं बच्चे को समय पर सुलाने के तरीके।

​सोने का माहौल क्रिएट करें
बच्चे को समय पर सुलाने के लिए उसे कुछ घंटे पहले ही खाना खिला दें। इसके साथ ही टीवी बंद कर दें और बच्चे को कंप्यूटर पर वीडियो गेम न खेलने दें। बच्चे को अच्छी नींद आए इसके लिए धीमा म्यूजिक चलाएं और कमरे में सिर्फ नाइट लैंप ही जलने दें। फिर बच्चे को सुलाने की कोशिश करने से आपका बच्चा समय पर सो जाएगा।

​शारीरिक परिश्रम कराएं
ज्यादातर बच्चे पूरे दिन इनडोर गेम खेलते हैं और घर से बाहर नहीं निकल पाते हैं। कोई फिजिकल एक्टिविटी न करने के कारण बच्चे को थकान नहीं होती है और उसे रात में जल्दी नींद नहीं आती है। बच्चे को रात में समय पर सुलाने के लिए यदि संभव हो तो एक्सरसाइज भी कराएं।

​सोने से पहले प्रार्थना करना सिखाएं
कई बच्चो को बिना कहानी सुने नींद नहीं आती है और वे बिस्तर पर अपनी मां का देर रात तक इंतजार करते रहते हैं। ऐसे में रात में सोने से पहले बच्चे को प्रार्थना करवाने की आदत डालें। कमरे की लाइट ऑफ करके प्रार्थना करने से बच्चे को सोने का बेहतर माहौल मिलता है।

​चाय या कॉफी से करें परहेज
शाम या रात के समय बच्चों को चाय या कॉफी नहीं पिलाना चाहिए। इससे नींद में बाधा आती है और बच्चा समय पर नहीं सो पाता है। रात में सोने से पहले बच्चे को गुनगुना दूध पिलाना एक बेहतर विकल्प है। इससे बच्चे को राहत मिलेगी और वह समय पर सो जाएगा।

​मसाज करें
पूरे दिन खेलने और भागदौड़ करने के बाद भी कई बच्चे भले ही एक्टिव नजर आते हैं लेकिन रात को सिर, हाथ और पैर की मालिश करने से शरीर को राहत मिलता है और अच्छी नींद आती है।

इस तरह ऊपर दिए गए तरीके अपनाकर बच्चे को रात में समय पर सुलाया जा सकता है। इसके अलावा आप बच्चे को सुलाने के लिए अपने तरीके से अन्य उपाय भी कर सकती हैं।

Source : Agency

आपकी राय

4 + 14 =

पाठको की राय